16 जुलाई 2020

तिथि

तक::

नक्षत्र

मू तक ::

योग

आयुष्मान तक ::

होम/ दैनिक उपचार

दैनिक उपचार

रवि

  • उपचार पिता,चाचा,बड़े भाई के साथ सम्बन्ध अच्छे रखे,बड़ो का आदर करे
  • वस्त्र लाल वस्त्र
  • मन्त्र वैदिक ॐ आ कृष्णेन रजसा वर्त्तमानो निवेशयनमृतं मर्त्यं च हिरण्येन सविता रथेना देवो याति भुवनानि पश्यन ॥
  • मन्त्र तांत्रिक ॐ सूर्याय स्वाहा
  • मन्त्र बीज ॐ ह्रां ह्रीं ह्रौं सः सूर्याय नमः ॥
  • जप कल सूर्योदय
  • जप संख्या 7000
  • हवन समिधा आक,काष्ट
  • रत्न माणिक्य
  • उपरत्न लालतमड़ा
  • औषधि मनः शिला,इलाइची,देवदारु,केशर,खस,लाल चन्दन
  • अन्न कनक,गुड़,घी,मूंग
  • धातु ताम्बा ,सोना
  • पशु लाल गाय
  • पुष्प कमलादि,रक्तपुष्प,कनेर

चांद

  • उपचार माता,बहिन, स्त्री व् मामा पक्ष का सम्मान करे
  • वस्त्र श्वेत वस्त्र
  • मन्त्र वैदिक ॐ इमं देवा असपत्नं सुवध्यं महते क्षत्राय महते ज्यैष्ठ्याय महते जानराज्यायेन्द्रस्येन्द्रियाय। इमममुष्य पुत्रममुष्यै पुत्रमस्यै विश एष वोऽमी राजा सोमोऽस्माकं ब्राह्मणानां राजा।।
  • मन्त्र तांत्रिक ॐ सों सोमाय नमः
  • मन्त्र बीज ॐ श्रां श्रीं श्रौं सः चंद्रमसे नमः
  • जप कल संध्या काल
  • जप संख्या 11000
  • हवन समिधा पलाश
  • रत्न मोती
  • औषधि पंचगव्य,गोदूध,गोबर,गजमद,शंखसीप,गंगाजल,श्वेत चन्दन,गोमूत्र
  • अन्न चावल,मिश्री,दही,कपूर
  • धातु चांदी,सोना
  • पशु श्वेत बैल
  • पुष्प श्वेत पुष्प

मंगल

  • उपचार भाई,मित्र,सहयोगी,से रिश्ते ठीक रखे
  • वस्त्र लाल,संतरी वस्त्र
  • मन्त्र वैदिक ॐ अग्निमूर्धा दिव: ककुत्पति: पृथिव्या अयम्। अपां रेतां सि जिन्वति।।
  • मन्त्र तांत्रिक ॐ अं अंङ्गारकाय नम:
  • मन्त्र बीज ॐ क्रां क्रीं क्रौं सः भौमाय नमः
  • जप कल सूर्य उदय से 2 /15 पल
  • जप संख्या 10000
  • हवन समिधा खैर
  • रत्न मूंगा
  • औषधि बिल्व छाल,हींग,गोदनी,जटामासी,मौलसिरी,सिंगरफ ,मालकंगली,गंगाजल
  • अन्न मसूर,गुड़
  • धातु ताम्बा,सोना
  • पशु लाल बैल
  • पुष्प लाल पुष्प,लाल कनेर

बुध

  • उपचार बुवा व् किन्नर जाती का आशीर्वाद ले
  • वस्त्र हरा वस्त्र
  • मन्त्र वैदिक ॐ उद्बुध्यस्वाग्ने प्रति जागृहि त्वमिष्टापूर्ते सं सृजेथामयं च।अस्मिन्त्सधस्‍थे अध्‍युत्तरस्मिन् विश्वेदेवा यजमानश्च सीदत।।
  • मन्त्र तांत्रिक ॐ बुं बुधाय नमः
  • मन्त्र बीज ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
  • जप कल सूर्योदय से 5 घडी
  • जप संख्या 9000
  • हवन समिधा अपामार्ग
  • रत्न पन्ना
  • उपरत्न ओनेक्स
  • औषधि गोबर,अक्षत,मोती,शहद,सुवर्ण,जायफल,पिपरामूल,नागकेशर
  • अन्न मूंग,शक्कर,घी,फल
  • धातु सोना,काश्य,हाथीदांत
  • पशु गज
  • पुष्प सर्व रंग पुष्प

बृहस्पति

  • उपचार दादा,ब्राह्मण,वृद्ध लोगो का आदर करे
  • वस्त्र पीत वस्त्र
  • मन्त्र वैदिक ॐ बृहस्पते अति यदर्यो अर्हाद् द्युमद्विभाति क्रतुमज्जनेषु।यद्दीदयच्छवस ऋतप्रजात तदस्मासु द्रविणं धेहि चित्रम्।।
  • मन्त्र तांत्रिक ॐ बृं बृहस्पतये नमः
  • मन्त्र बीज ॐ ग्रां ग्रीं ग्रौं सः गुरुवे नमः
  • जप कल संध्याकाल
  • जप संख्या 19000
  • हवन समिधा पीपल
  • रत्न पुखराज
  • उपरत्न सुनेला
  • औषधि श्वेतसरसो,शहद,गूलर,दमयंती,मुलठी,नवीनपत्ते
  • अन्न पीतधान्य,नमक,घी,पीले फल
  • धातु कास्यपात्र,सोना,चांदी
  • पशु अश्व
  • पुष्प पीले पुष्प,चमेली

शुक्र

  • उपचार पत्नी व् स्त्री वर्ग का सम्मान करे
  • वस्त्र सफ़ेद व् मिश्रित रंग
  • मन्त्र वैदिक ॐ अन्नात्परिस्त्रुतो रसं ब्रह्मणा व्यपिबत् क्षत्रं पय: सोमं प्रजापति:। ऋतेन सत्यमिन्द्रियं विपानं शुक्रमन्धस इन्द्रस्येन्द्रियमिदं पयोऽमृतं मधु।।
  • मन्त्र तांत्रिक ॐ शुं शुक्राय नमः
  • मन्त्र बीज ॐ द्रां द्रीं द्रौं सः शुक्राय नमः
  • जप कल सूर्य उदय काल
  • जप संख्या 16000
  • हवन समिधा गूलर
  • रत्न हीरा
  • उपरत्न जरकन,ओपल
  • औषधि पीपरामूल,जायफल,केशर,मुलीबीज,मनः शिल,इलायची,श्वेतचन्दन
  • अन्न चावल,मिश्री,दूध,दही
  • धातु चांदी,सोना
  • पशु श्वेत अश्व
  • पुष्प श्वेतपुष्प,श्वेतकम

शनि

  • उपचार चाचा,पुत्र,चचेरे भाई,नौकर इत्यादि से सम्बन्ध मधुर रखे
  • वस्त्र काला,नीला
  • मन्त्र वैदिक ॐ शं नो देवीरभिष्टय आपो भवन्तु पीतये। शं योरभि स्त्रवन्तु न:।।
  • मन्त्र तांत्रिक ॐ शं शनैश्चराय नमः
  • मन्त्र बीज ॐ प्रां प्रीं प्रौं सः शनैश्चराय नमः
  • जप कल संध्याकाल
  • जप संख्या 33000
  • हवन समिधा शमी
  • रत्न नीलम
  • उपरत्न नीली,लोहे का छल्ला
  • औषधि काले तिल,सुरमा,लोबान,सौफ,खस,खिल्ल,गादमिश्रित
  • अन्न उड़द,कुलथी,तेल,कस्तूरी
  • पशु भैस,काली गाय, काला कुत्ता
  • पुष्प काले पुष्प

राहु

  • उपचार दादा पक्ष दादा,दादी का सम्मान करे
  • वस्त्र काले
  • मन्त्र वैदिक ॐ कया नश्चित्र आ भुवदूती सदावृध: सखा। कया शचिष्ठया वृता।।
  • मन्त्र तांत्रिक ॐ रां राहवे नमः
  • मन्त्र बीज ॐ भ्रां भ्रीं भ्रौं सः राहवे नमः
  • जप कल रात्रि
  • जप संख्या 18000
  • हवन समिधा दूर्वा
  • रत्न गोमेद
  • औषधि लोबान,तारपीन,मोथा,गजदंत,कस्तूरी,बिल्वपत्र,लालचन्दन
  • अन्न सप्तधान्य,तेल,नारियल
  • धातु सीसा,लोहा,सोना
  • पशु काला घोडा
  • पुष्प काले पुष्प

केतु

  • उपचार नाना पक्ष व् नाना नानी का सम्मान करे
  • वस्त्र काले व् धूम्र वस्त्र
  • मन्त्र वैदिक ॐ केतुं कृण्वन्नकेतवे पेशो मर्या अपेशसे। सुमुषद्भिरजायथा:।।
  • मन्त्र तांत्रिक ॐ कें केतवे नमः
  • मन्त्र बीज ॐ स्रां स्रीं स्रौं सः केतवे नमः
  • जप कल रात्रि
  • जप संख्या 17000
  • हवन समिधा कुशा
  • रत्न लहसुनिया
  • औषधि लोबान,तारपीन,मोथा,गजदंत,कस्तूरी,बिल्वपत्र,लालचन्दन
  • अन्न सप्तधान्य,नारियल,तेल,कस्तूरी
  • धातु लोहा,सोना
  • पशु बकरा
  • पुष्प धूम्र पुष्प

ब्लॉग

और देखे