02 जून 2020

तिथि

तक::

नक्षत्र

मू तक ::

योग

आयुष्मान तक ::

सेक्स समस्या

सेक्स समस्या

1,100.00
सभी करों का समावेश
अभी खरीदें

सामान्य परिचय-सेक्स अर्थात यौन सम्बन्ध -सृष्टि कर्म को बड़ाने के लिए पुरुष पर स्त्री के मध्य में होने वाले सम्बन्ध को (काम) गुप्ता सम्बन्ध या यौन  सम्बन्ध कहते है।आज सबसे बड़ी समस्या वैवाहिक (दाम्पत्य) जीवन में सेक्स (यौन)सम्बन्ध की है।इसमें कई कारण होते है-
1-विवाह विलम्ब से होना
2-पति-पत्नी में आयु का अन्तर
3-शारीरिक विकार
4-नपुंसकता
सेक्स यौन सम्बन्ध के ठीक ना होने से भी वैवाहिक सुख में कमी देखी जाती है और अक्सर इस कारण भी दाम्पत्य वैवाहिक जीवन में तकरार या विच्छेद होते है।
ग्रह-नक्षत्र-राशि-भाव के द्वारा जातक के संबंधो के बारे में जाना जाता है,इनके द्वारा उत्पन्न होने वाली समस्याओं पर विचार किया जाता है।ओर इनके दोषों से बचा जा सकता है।
ज्योतिष के माध्यम से ग्रह,भाव,राशि,नक्षत्र के संयोग से बनने वाले योग व दोषों को हमारे विद्वान आचार्य अपको बताएँगे,और भविष्य में होने वाली समस्याओं से आपको अवगत कराएँगे ताकि भविष्य मे आप इसके बुरे परिणामों से बच सके।

क्या है सेक्स-यौन सम्बन्धी जानकारी?
सेक्स-यौन सम्बंधित जानकारी व्यक्ति की कुंडली (जन्म दिनांक,जन्म समय,जन्म स्थान)के आधार पर दी जाती है।सेक्स-यौन सम्बंधित जानकारी का विश्लेषण कुंडली के विभिन्न वर्गों के द्वारा व कुंडली में स्थित ग्रह,नक्षत्र,राशि,भाव के द्वार किया जाता है,दशा का सूक्ष्म रूप से विश्लेषण कर हमारे विद्वान आचार्यों द्वारा भविष्य में होने वाली सेक्स-यौन समस्या की जानकारी व्यक्ति को दी जाती है,ताकि भविष्य में सेक्स-यौन  सम्बंधित समस्याओं से बचाव किया जा सके।

सेक्स-यौन सम्बंधित जानकारी के लाभ
-सेक्स-यौन  सम्बंधित जानकारी से भविष्य में होने वाली समस्या का पता चलता है।
-सेक्स-यौन  सम्बंधित जानकारी के साथ विद्वान आचार्यों का परामर्श भी उपलब्ध होता है।
-सेक्स-यौन सम्बंधित जानकारी के साथ उचित उपचार हेतु परामर्श(पूजा-पाठ,मंत्र-जाप ,रत्न,यंत्र,औषधि स्नान,दान)  विद्वान आचार्यों द्वारा दिया जाता हैं।
-हमारे द्वारा दी गयी सेक्स-यौन सम्बंधित जानकारी ई-मेल व कुंडली के माध्यम से उपलब्ध करायी जाती  है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *